एक समय क्रिकेट छोड़ना चाहते थे कुलदीप यादव, जानिए उनसे जुड़ी 6 बातें

0
268

कुछ साल पहले तक कुलदीप यादव अपनी पहचान बनाने के लिए खूब कोशिश करते थे. समय जरूर लगा लेकिन पहचान मिल गई.

कुछ साल पहले तक कुलदीप यादव अपनी पहचान बनाने के लिए खूब कोशिश करते थे. समय जरूर लगा लेकिन पहचान मिल गई. आईपीएल में कई साल खेलने के बाद उन्हें टीम इंडिया में मौका मिला. एक समय ऐसा भी था जब कप्तान कोहली उनको टीम में देखना नहीं चाहते थे. इस बात पर उनकी बहस उस वक्त के कोच अनिल कुंबले से हो गई थी. लेकिन कुलदीप को मौका मिला और उन्होंने खुद को प्रूव कर दिया. कानपुर से निकलकर उन्होंने क्रिकेट में आने का सपना पूरा किया. उनके पिता चाहते थे कि एक दिन उनका बेटा टीम के लिए खेलें और नए मुकाम हासिल करें. अब कुलदीप टीम इंडिया के स्टार बॉलर बन चुके हैं और उन्हें बाहर करने की गलती कोई नहीं करना चाहेगा. 9वें ही मुकाबले में ही हैट्रिक लेकर कुलदीप ने अपनी प्रतिभा का सबूत दे दिया. आइए जानते हैं चाइनमैन की कुछ ऐसी ही बातें तो बहुत कम लोग जानते हैं.

छोड़ना चाहते थे क्रिकेट

कुलदीप क्रिकेट के शुरुआती दिनों में टीम में नहीं चुना जाने के कारण काफी निराश थे. उन्‍होंने तो क्रिकेट छोडऩे का मन बना लिया था. बाद में बहन के समझाने के बाद उन्होंने फिर से वापसी की. और आज वहां पहुंच गए, जहां पहुंचने का सपना हर खिलाड़ी देखता है.

पसंदीदा फिल्‍म

कुलदीप की पसंदीदा फिल्‍म ‘कभी खुशी कभी गम’ है. इस फिल्‍म में शाहरुख खान थे. सबसे मजेदार बाद यह है कि IPL में वह शाहरुख के मालिकाना हक वाली केकेआर की तरफ से खेलते हैं.

पसंदीदा हीरो

अक्‍सर देखा जाता है कि क्रिकेटरों को बॉलीवुड से काफी लगाव रहता है. कुलदीप भी इस मोह से अछूते नहीं है. वह एक्‍टर ऋतिक रोशन के बहुत बड़े फैन हैं. ऋतिक उनके पसंदीदा हीरो हैं.

पसंदीदा एक्‍ट्रेस

पसंदीदा एक्‍ट्रेस की बात करें तो कुलदीप की फेवरेट जैकलीन फर्नांडीज हैं. जैकलीन फर्नांडीज मिस श्रीलंका भी रह चुकी हैं. फिलहाल वह बॉलीवुड फिल्‍मों में काम कर रहीं.

फुटबॉल लवर हैं कुलदीप

कुलदीप यादव खाली वक्‍त में फुटबॉल देखना पसंद करते हैं. वह बार्सिलोना टीम के फैन हैं. इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पिछले साल आईपीएल में उनके फोन कवर पर मशहूर फुटबॉलर नेमार की फोटो लगी थी.

चाइनामैन स्‍टाईल में करते हैं गेंदबाजी

कुलदीप यादव भारत के पहले ऐसे गेंदबाज हैं जो चाइनामैन स्‍टाईल में गेंदबाजी करते हैं. इंटरनेशनल क्रिकेट में इस तरह की बॉलिंग सिर्फ पांच गेंदबाज करते हैं. जब बाएं हाथ का स्पिनर गेंद को अंगुलियों की बजाय कलाई से स्पिन कराते हुए ऑफ स्पिन की जगह लेग स्पिन कराए तो उसे चाइनामैन कहा जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here